Robotics क्या है, Applications of Robotics in Hindi

(Robotics in Hindi) study the construction, design, use, operation, sensor and information processing of robots.

Robotics in Hindi

Robot आज की हक़ीक़त हैं। रोबोट हर जगह हैं। रोबोट भविष्य हैं।

रोबोट क्या है, ये कैसे बनते हैं, ये कैसे कार्य करते हैं – इन सभी सवालों के जवाब है रोबोटिक्स (Robotics)

(Robotics) रोबोटिक्स: विज्ञान, इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी का सम्मिलित रूप है जिससे इस तरह की मशीनों को बनाया जाता है जो इंसान की जगह कार्य कर सकें, रोबोट कहते है।

रोबोटिक्स | Robotics Meaning in Hindi

रोबोटिक्स (Robotics): इंजीनियरिंग और विज्ञान की एक शाखा है जिसमें इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और कंप्यूटर विज्ञान आदि शामिल हैं। इस शाखा के अंतर्गत रोबोट के निर्माण, डिजाइन, उपयोग, संचालन, सेंसर और इन्फॉर्मेशन प्रोसेसिंग आदि का अध्ययन करते हैं।

Robotics: is a branch of engineering and science which includes electronics engineering, mechanical engineering and computer science etc. Under this branch, we study the construction, design, use, operation, sensor and information processing of robots etc.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ती जा रही है, वैसे-वैसे रोबोटिक्स का दायरा भी बढ़ता जा रहा है। रोबोटिक्स ऐसी टेक्नोलॉजी हैं जिसके द्वारा हम देखेंगे कि आने वाले वर्षों में इंसानी कार्य ज्यादातर रोबोट्स कर रहे हैं।

आप अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के पर्सीवरेंस रोवर (Perseverance rover) को रोबोटिक्स का सबसे बेहतरीन उदाहरण मान सकते हैं, बिना किसी इंसान के यह रोवर मंगल ग्रह (Mars Planet) पर जरूरी शोध कार्य कर रहा है।

पर्सीवरेंस रोवर (Perseverance rover)
Why are Rovers so important? Credit/ https://kidsactivitiesblog.com/

इस समय सबसे ज्यादा इस्तेमाल रोबोटिक्स का ऑटोमोटिव कारखानों में हो रहा है। 2005 तक ही, सभी रोबोटों में से लगभग 90% तक ऑटोमोटिव कारखानों में कारों की असेम्बली में इस्तेमाल किये जाते हैं। इन रोबोटों में ज्यादातर मेकेनिकल आर्म होते हैं जिन्हें कार के कुछ हिस्सों पर वेल्डिंग या पेंच लगाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

लेकिन जब रोबोट की बात आती है, तो देखा जाए हम अभी अभी शुरुआती चरण से आगे निकले ही हैं। साइंस फिक्शन में जिस तरह से रोबोटों का चित्रण किया गया है, उससे बहुत से लोग उम्मीद करते हैं कि रोबोट दिखने में इंसानों की तरह होंगे। लेकिन अभी वास्तव में रोबोट ऐसे दिखते है, जैसे वह किसी कार्य को करने वाली आधुनिक मशीने हो।

बहुत सी मशीनें जो इंसानों की तरह दिखती भी नहीं हैं, लेकिन उन्हें स्पष्ट रूप से रोबोट कहा जा सकता है। इससे हम कह सकते हैं कि मानव की तरह दिखने वाले ज्यादातर रोबोट अभी भी आधुनिक मशीनी खिलौनों से ज्यादा कुछ नहीं हैं।

रोबोटिक्स के अनुप्रयोग | Applications of Robotics in Hindi

विभिन्न प्रकार के रोबोट विभिन्न प्रकार के कार्य करते हैं। उदाहरण के लिए, कई रोबोट असेंबली कार्य के लिए बनाए जाते हैं जिसका अर्थ है कि वे किसी अन्य कार्य को करने में सक्षम नहीं हैं इस प्रकार के रोबोट को असेंबली रोबोट कहा जाता है। जबकि कई रोबोट भारी-भरकम काम के लिए डिज़ाइन किए जाते हैं और उन्हें हैवी ड्यूटी रोबोट के रूप में जाना जाता है।

Applications of Robotics in Hindi
Applications of Robotics in Hindi

रोबोटिक्स के कुछ अनुप्रयोग इस प्रकार हैं:

  • कृषि कार्यों में
  • स्वास्थ्य सुविधाओं में
  • घरेलू कार्यों के उपयोग में
  • सैन्य इस्तेमाल में
  • जंगल की आग से लड़ने की मदद में
  • मैन्युफैक्चरिंग संयंत्रों में मनुष्यों के साथ काम करने में
  • पैकेजिंग में
  • रोबोट का इस्तेमाल इंसानों की तुलना में मैन्युफैक्चरिंग में तेजी से हो रहा है . जबकि ऑटो-इंडस्ट्री में आधे से ज्यादा मजदूर “रोबोट” ही हैं।

रोबोटिक्स में करियर के लिए अध्ययन | Study for a Career in Robotics in Hindi

आप रोबोटिक्स के क्षेत्र में जाना चाहते हैं? इसके लिए आपको इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर साइंस, बायोटेक्नोलॉजी, मैन्युफैक्चरिंग, कॉग्निटिव साइंस आदि का अध्ययन करना पड़ेगा।

रोबोटिक्स के लिए 2 मुख्य विषय हैं उनका हाईस्कूल से ही अध्ययन जरूरी है –

गणित | Mathematics

गणित बहुत जरूरी है इसका मतलब यह नहीं की आपको गणित गणित में मास्टर होने की जरुरत हैं। लेकिन बीजगणित और ज्यामिति जैसी गणित की शाखाओं की अच्छी जानकारी होनी चाहिए अगर आप रोबोटिक्स में करियर बनाना चाहते हैं।

भौतिकी (या अन्य विज्ञान) | Physics (or another science)

अगर आपको इंजीनियरिंग से सम्बंधित किसी भी काम को करने की जरूरत पड़ती है तो आपके लिए विज्ञान की मजबूत समझ होना बहुत जरूरी है। भौतिकी का अध्ययन इसलिए आवश्यक हो जाता है क्योंकि इसमें रोबोटिक्स के अध्ययन लिए जरूरी विषयों का भी अध्ययन हो जाता है जैसे एनर्जी, इलेक्ट्रिकल सर्किट, मैकेनिक्स, भौतिक विज्ञान आदि।

इनके अतिरिक्त अन्य विषयों की जानकारी होना भी जरूरी हैं जैसे –

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग | Mechanical Engineering
  • इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग | Electrical and Electronics Engineering
  • कंप्यूटर साइंस | Computer Science
Share your love
Awanish Kumar
Awanish Kumar
Articles: 52

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!