Genetics in Hindi: Definition, Meaning, Branches, Advantages, Disadvantages

(Genetics in Hindi) is the branch of biology that deals with the study of genetic variation, similarity, evolution of heredity and genes.

आनुवंशिकी क्या है | Genetics in Hindi

जेनेटिक्स (Genetics in Hindi) के अंतर्गत, आनुवंशिकता और जीनों का अध्ययन करते हैं। जेनेटिक्स जीव विज्ञान की महत्वपूर्ण शाखाओं में से एक है और जेनेटिक्स का अध्ययन कृषि, चिकित्सा और बायोटेक्नोलॉजी जैसे कई अन्य क्षेत्र में किया जाता है।

सबसे पहले एक सवाल – आप अन्य इंसानो से अलग कैसे दिखते हैं, आप अपने परिवार के अन्य सदस्यों की तरह क्यों दिखते हैं, और किसी किसी परिवार में स्वास्थ्य और बीमारियां विरासत में क्यों मिलती हैं।

जेनेटिक्स इन्ही चीजों को समझने में मदद करता है।

आनुवंशिकी की परिभाषा | Definition of Genetics in Hindi

Definition of Genetics:

जेनेटिक्स जीव विज्ञान की वह शाखा है जो आनुवंशिक भिन्नता, समानता, आनुवंशिकता के विकास और जीन के अध्ययन से संबंधित है।

Genetics is the branch of biology that deals with the study of genetic variation, similarity, evolution of heredity and genes.

आनुवंशिकी का अर्थ | Meaning of Genetics in Hindi

“जेनेटिक्स” शब्द ग्रीक शब्द “जेनेटिकोस” और “जेनेसिस” से लिया गया था।”जेनेटिक्स” शब्द 1905 में विलियम बेटसन द्वारा इस्तेमाल में लाया गया था।

जेनेटिक्स में इस बात अध्ययन करते हैं कि ये विरासत में मिले लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में कैसे भिन्न हो सकते हैं। स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और बीमारी को रोकने के बारे में अधिक जानने के लिए आनुवंशिक कारकों और आनुवंशिक विकारों को समझना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। कि माता-पिता से उनके बच्चों में बालों का रंग, आंखों का रंग और स्वास्थ्य और बीमारी जैसे लक्षण (“विरासत में मिले”) कैसे आते हैं।

genetic facts
genetic facts

जैसा कि हम जानते हैं कि जीवित चीजों में माता-पिता के लक्षण होते हैं। इन जीवित चीजों में पेड़, पौधे, इंसान और जानवर कुछ भी हो सकते हैं। लेकिन 20वीं सदी तक, शोधकर्ताओं को यह ठीक से समझ में नहीं आया कि माता-पिता के लक्षण बच्चों में कैसे स्थानांतरित होते हैं।

जेनेटिक्स में सभी स्तर पर जीनों का अध्ययन किया जाता है, कि जीन किस तरह  से कोशिका में कार्य करते हैं और किस तरह से वे माता-पिता से संतानों में संचरित होते हैं।

जीन क्या होते हैं | Meaning of Genes in Hindi

जीन DNA (डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक एसिड)  से बने जैव रासायनिक निर्देश हैं और बैक्टीरिया से लेकर इंसानों तक हर जीव की कोशिकाओं के अंदर पाए जाते हैं।

और अब यह जबकि स्पष्ट हो गया है कि वे जीन(Genes) हैं जो माता-पिता से बच्चे में लक्षणों को स्थानांतरित करते हैं

जीन के बारे में जानना और समझना बहुत जरुरी हैं क्योंकि जीन ही शरीर को प्रोटीन बनाने के लिए जानकारी और आदेश देता है जो जीव के विकास और अस्तित्व के लिए आवश्यक हैं।

Gene in Hindi
Gene in Hindi

किसी जीव के सभी जीनों के योग को उसका जीनोम(genome) कहते हैं या आपकी आनुवंशिक जानकारी को आपका “आनुवंशिक कोड” या “जीनोम” कहा जाता है। DNA (Deoxyribo Nucleic Acid) सीढ़ी के आकार का होता है, जिसे डबल हेलिक्स कहा जाता है।

वैज्ञानिक अक्सर जुड़वा बच्चों का अध्ययन यह समझने के लिए करते हैं कि जीन और पर्यावरण एक साथ लक्षणों को प्रभावित करने के लिए कैसे काम करते हैं। एक जैसे जुड़वा बच्चों का डीएनए बिल्कुल एक जैसा होता है, लेकिन उनके लक्षण बिल्कुल एक जैसे नहीं होते हैं। प्रत्येक जुड़वां का अपना व्यक्तित्व, प्रतिभा, पसंद और नापसंद होती है।

मॉडर्न जेनेटिक्स | Modern Genetics in Hindi: मॉडर्न जेनेटिक्स में जीन, डीएनए आदि का अधिक गहराई से अध्ययन करते हैं। आधुनिक आनुवंशिकी उस रासायनिक पदार्थ पर ध्यान केंद्रित करती है जो जीन बनाता है, जिसे डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक एसिड या DNA कहा जाता है, और यह कोशिका के भीतर जीवित प्रक्रियाओं के साथ कैसे संपर्क करता है। यह कैसे परस्पर क्रिया करता है और यह उस रासायनिक प्रतिक्रिया को कैसे प्रभावित करता है जो कोशिका के भीतर जीवित प्रक्रियाओं का निर्माण करती है।

Areas of Genetics in Hindi
Areas of Genetics in Hindi

मॉडर्न जेनेटिक्स विशेषज्ञों ने कृषि, बागवानी, पशुपालन, पारिस्थितिकी और जीव विज्ञान की कई अन्य शाखाओं में क्रांति ला दी है।

Modern genetics experts have revolutionized agriculture, horticulture, animal husbandry, ecology and many other branches of biology.

आनुवंशिकी की विभिन्न शाखाएं | Different Branches of Genetics in Hindi

आनुवंशिकी की कुछ विशिष्ट शाखाएँ निम्नलिखित हैं

Plant genetics in Hindi

इसके अंतर्गत विशेष रूप से पौधों में जीन, आनुवंशिक भिन्नता और आनुवंशिकता का अध्ययन किया जाता है।

Animal genetics in Hindi

इसके अंतर्गत विशेष रूप से जानवरों में आनुवंशिकता, भिन्नता और पशु चिकित्सा  आदि का अध्ययन करते हैं।

Human genetics in Hindi

इसके अंतर्गत मनुष्यों में विरासत में मिले लक्षणों, स्वास्थ्य, बीमारियाँ आदि का अध्ययन करते हैं।

Molecular genetics in Hindi

इसके अंतर्गत जीन की संरचना और कार्य, कोशिकाओं के साथ कैसे क्रियाऐं करते हैं आदि का अध्ययन करते हैं।

आनुवंशिकी के फायदे और नुकसान | Advantages and Disadvantages of Genetics in Hindi

आनुवंशिकी के निम्न फायदे और नुकसान हैं

  • जेनेटिक्स के अध्ययन से वैज्ञानिकों ने मनुष्यों और विभिन्न अन्य पौधों और जानवरों के जीनोम को डीकोड किया है। इस जुटाई गयी जानकारी का उपयोग करके जानवरों, पौधों और मनुष्यों में कई बीमारियों का निदान, उपचार, रोकथाम और इलाज के लिए किया जा सकता है।
  • इससे बहुत सी बीमारियों का इलाज और उनको ख़त्म करने में मदद मिलेगी इसके अलावा खेती के लिए नए बीज तैयार करने में मदद मिलेगी जिससे इस बेतहाशा बढ़ती आबादी के खाने के लिए संकट ना पैदा हो, पेड़ों के संरक्षण में मदद मिलेगी।

अंत में, जेनेटिक्स की जानकारी ने हमें कुछ नए खतरों से भी अवगत कराया है।

  • कुछ जेनेटिक्स विशेषज्ञों को डर है कि पौधों में ज्यादा केमिकल मिले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल और जानवरों से ज्यादा लाभ लेने के लिए जीन में बदलाव, पौधों और जानवरों की आने वाली नस्लों के लिए बहुत नुकसानदेय हो सकते हैं और उनमे बदलाव भी ला सकते हैं।
  • इसके अलावा, कुछ जेनेटिक्स विशेषज्ञों को डर है कि प्रयोगशालाओं से कृत्रिम बीमारियां बनायी जा सकती हैं जो बड़ी आपदा का कारण बन सकती हैं या मनुष्यों के DNA से छेड़छाड़ की जा सकती है जो आने वाले भविष्य में बहुत खतरनाक साबित हो सकती है।
Share your love
Awanish Kumar
Awanish Kumar
Articles: 52

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!