Induction Heating in Hindi: Meaning, Components, Factors, Benefits

इंडक्शन हीटिंग (Induction Heating in Hindi) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग धातुओं या अन्य विद्युत प्रवाहकीय मैटेरियल्स को जोड़ने, मजबूत करने या नरम करने के लिए किया जाता है।

Induction Heating in Hindi: Meaning, Components, Factors, Benefits

Introduction:

घरेलू और व्यावसायिक दोनों उद्देश्यों के लिए विभिन्न हीटिंग पद्धतियों का उपयोग किया गया है।

इंडक्शन हीटिंग सिद्धांत का उपयोग 1920 के दशक से विनिर्माण (manufacturing) कार्यों में किया जाता रहा है। जैसा कि कहा जाता है कि – आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, इंडक्शन हीटिंग तकनीक में भी यही हुआ।

इंडक्शन हीटिंग(Induction Heating in Hindi) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग धातुओं या अन्य विद्युत प्रवाहकीय मैटेरियल्स को जोड़ने, मजबूत करने या नरम करने के लिए किया जाता है।

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान, धातु से बनने वाले इंजन के पुर्जों को सख्त करने के लिए एक तेज गति से होने वाली प्रक्रिया की आवश्यकता ने इंडक्शन हीटिंग तकनीक के विकास को तेज कर दिया। आज हम अपनी दैनिक जरूरतों में इस तकनीक के प्रयोगों को देखते हैं।

समय के साथ, इंडक्शन हीटिंग आज की तकनीक के साथ कैसे प्रयोग में लायी जाये इसके लिए नए और विश्वसनीय तरीके पेश किए जा रहे हैं, जो सुरक्षित भी हो, उन पर नियंत्रण भी हो और विनिर्माण की गति और तेज कर सकें

इंडक्शन हीटिंग क्या है? | What is Induction Heating?

 or

इंडक्शन हीटिंग कैसे काम करता है? | how does induction heating work?

इंडक्शन हीटिंग भौतिकी के दो नियमों का सीधा प्रयोग करता है: फैराडे का नियम और जूल नियम।

इंडक्शन हीटिंग की प्रक्रिया विद्युत चुम्बकीय प्रेरण और जूल हीटिंग का एक संयुक्त रूप है। इंडक्शन हीटिंग, विद्युत चुम्बकीय प्रेरण सिद्धांत का उपयोग करके धातु के भीतर एडी धाराओं (Eddy Currents) को उत्पन्न करके विद्युत प्रवाहकीय मैटेरियल्स (उसके संपर्क में आये विना) को गर्म करने की, प्रक्रिया है।

जूल हीटिंग के सिद्धांत के अनुसार, धातु की प्रतिरोधकता के विरुद्ध उत्पन्न एडी धारा (Eddy Current) प्रवाहित होने पर, धातु में गर्मी उत्पन्न होती है।

Induction Heating Diagram
Induction Heating Diagram

इंडक्शन हीटिंग धातुओं या किसी अन्य विद्युत-प्रवाहकीय मैटेरियल्स को गर्म करने की एक सटीक, तीव्र प्रक्रिया है।

प्लास्टिक या कांच जैसे गैर- विद्युत प्रवाहकीय पदार्थों को गर्म करने के लिए, विद्युत-प्रवाहकीय सुसेप्टर (susceptor) जैसे ग्रेफाइट का उपयोग किया जा सकता है।

प्रेरकत्व की इकाई क्या होती है? | What is the unit of inductance?

प्रेरकत्व के मापन की इकाई हेनरी है।

इंडक्शन हीटर में इस्तेमाल होने वाले पार्ट्स | Induction Heater Components

एक कॉमन इंडक्शन हीटर में निम्न पार्ट्स होते हैं:

1 –a power supply

2 – an electromagnet

3- an electric oscillator

4 – an induction work coil

इंडक्शन हीटिंग को प्रभावित करने वाले कारक | Factors Affecting Induction Heating:

किसी धातु के गर्म होने की दर मुख्यतः उसकी प्रतिरोधकता पर निर्भर करती है। यदि इसकी उच्च प्रतिरोधकता है, और जैसे जैसे करंट गुजर रहा है तो यह अधिक गर्मी पैदा करता है। लेकिन कम प्रतिरोधकता होने से धातु कम गर्मी पैदा करती है।

इसलिए, उच्च प्रतिरोधकता वाली लौह धातुएं इंडक्शन हीटिंग के लिए सबसे उपयुक्त हैं। एक इंडक्शन हीटर धीमी गति से कॉपर और एल्युमिनियम का तापमान भी बढ़ा सकता है।

इंडक्शन हीटिंग के उदाहरण | Examples of induction heating:

1 – कुकिंग स्टोव

2 – अनुसंधान और डिजाइन

3 – वेल्डिंग करने में

4 – पिघलने में

5 – सील करने में

6 – वस्तुओं को सुखाने में

7 – सोल्डरिंग में

इंडक्शन हीटिंग के लाभ | Benefits of induction heating :

कुछ क्लासिक हीटिंग तकनीकों (प्रतिरोध हीटिंग, फ्लेम हीटिंग, भट्टियां, आदि) की तुलना में, इंडक्शन हीटिंग के निम्नलिखित फायदे हैं:

1 – कम समय (short time) :

इंडक्शन हीटिंग के माध्यम से, वस्तु को सीधे गर्म किया जाता है जिसके परिणामस्वरूप हीटिंग में लगने वाले समय और बेकार जाने वाली गर्मी दोनों में कमी आती है।

2 – उच्च दक्षता (high efficiency) :

उच्च तापमान बहुत तेजी से प्राप्त किया जा सकता है क्योंकि गर्मी बर्बाद नहीं होती है। पावर कन्वर्टर और कॉइल के सही डिजाइन के साथ 90% तक दक्षता हासिल की जा सकती है।

3 – बेहतर नियंत्रण (better control):

स्थानीय हीटिंग, और प्रीहीटिंग, प्रीसेट तापमान जैसे अतिरिक्त फीचर्स आसानी से जोड़े जा सकते है।

4 – सुरक्षा और स्वच्छता (safety and cleanliness):

इंडक्शन हीटिंग में कोई थर्मल या वायु प्रदूषण नहीं है क्योंकि वस्तु को सीधे गर्म किया जाता है और किसी भी ईंधन का उपयोग नहीं किया जाता है।

Question for you?

इंडक्शन हीटिंग का उपयोग करने के अलावा, क्या आप विद्युत शक्ति को ऊष्मा ऊर्जा में परिवर्तित करने के किसी अन्य तरीके के बारे में सोच सकते हैं? कमेंट करके बताएं-

Share your love
Awanish Kumar
Awanish Kumar
Articles: 52

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!