(GAE) Google App Engine in Hindi

Google App Engine (GAE): A service from Google Cloud Platform through which applications can be developed, hosted and operated.

Google Cloud Platform and Google App Engine in Hindi

गूगल एप इंजन  | (GAE) Google App Engine in Hindi:

Google App Engine (GAE) Google क्लाउड प्लेटफार्म की एक सर्विस है जिसके द्वारा एप्लिकेशन को डेवलप, होस्ट और ऑपरेट कर सकते हैं।

Google क्लाउड प्लेटफार्म की प्रमुख सर्विसेज में से एक ऐप इंजन (App Engine) के बारे में आप जानेंगे –

Google के अनुसार गूगल एप इंजन क्या है?

“Build highly scalable applications on a fully managed serverless platform.”

अगर आप क्लाउड पर एप्लीकेशन बनाना चाहते हैं तो निश्चित तौर पर एक अच्छी क्लाउड कंप्यूटिंग सर्विस इस्तेमाल करना चाहेंगे जिसमे सर्विसेज और फीचर्स बेस्ट हों तो आपके लिए Google App Engine एक बेस्ट चॉइस हो सकती हैं।

एप्लिकेशन को चलाने और होस्ट करने (चाहे वह मोबाइल या वेब पर) के लिए Google App Engine (GAE) पर सभी फीचर्स उपलब्ध हैं। ऐप इंजन में दो तरह के environment में ऐप डेवलप कर सकते हैं और दोनों तरह के environment में एक साथ ऐप डेवलप कर सकते हैं।

  • Flexible environment
  • Standard environment

Google App इंजन के बारे में मुख्य बातें (Key things about Google App Engine in Hindi)

  • यह क्लाउड कंप्यूटिंग के प्लेटफार्म एज़ अ सर्विस Platform-as-a-Service मॉडल के रूप में सर्विस देता है जिसमे स्केलेबल एप्लिकेशन बना सकते है, डेप्लॉय कर सकते हैं और ऑपरेट कर सकते हैं।
  • ऐप इंजन में डेवलपर्स कई प्रोग्रामिंग भाषाओं में एप्लीकेशन बना सकते हैं।  किसी भी पॉपुलर डेवलपमेंट लैंग्वेज जैसे Node.js, Java, Ruby, C#, Go, Python, या PHP में अपना एप्लिकेशन बना सकते हैं।
  • डॉकर कंटेनरों (एप इंजन का एक फीचर) के जरिये फ्रेमवर्क और लाइब्रेरीज भी जोड़ सकते हैं।
  • जब भी Google ऐप इंजन में आप कोई वेब एप्लीकेशन कोड जोड़ते हैं तो यह कोड को  melware और threats से बचाने के लिए firewall को enable कर देता हैं।
  • इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि जिस सर्विस को आप इस्तेमाल कर रहे हैं केवल उसी के लिए आपको पे(pay) करना पड़ता है। कह सकते हैं कि ऐप इंजन pay-as-you-go मॉडल पर चलता हैं। 
  • आप अपने ऐप की हेल्थ और परफॉरमेंस को Cloud Monitoring और Cloud Logging के जरिये चेक कर सकते हो उसमें आने वाली कमियों और Bugs को Cloud Debugger और Error Reporting के जरिये ठीक कर सकते हो।

Google क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म क्या है (Google Cloud Platform or GCP in Hindi)

Google क्लाउड (जिसे Google Cloud Platform या GCP के रूप में भी जाना जाता है) एक क्लाउड प्लेटफार्म है जिस पर एप्लीकेशन्स को डेवलप, डेप्लॉय, और ऑपरेट कर सकते हैं। Google क्लाउड प्लेटफ़ॉर्म Google द्वारा दी जाने वाली क्लाउड कंप्यूटिंग सेवाओं का एक समूह (suite) है।

Google क्लाउड प्लेटफार्म बहुत सी सर्विसेज है जिसमे प्रमुख निम्नलिखित हैं:

  • कंप्यूटिंग और होस्टिंग
  • नेटवर्किंग
  • स्टोरेज और डेटाबेस
  • बिग डेटा
  • मशीन लर्निंग
  • आइडेंटिटी और सिक्योरिटी
  • मैनेजमेंट और डेवलपर टूल्स

कौन इन सर्विसेज को इस्तेमाल कर सकता है इन सर्विसेज को डेवलपर्स, क्लाउड एडमिनिस्ट्रेटर और अन्य आईटी प्रोफेशनल्स  द्वारा एक्सेस किया जा सकता है। इसके लिए पब्लिक इंटरनेट या डेडिकेटेड नेटवर्क कनेक्शन के माध्यम की आवश्यकता होती है।

Google क्लाउड प्लेटफार्म (GCP) की कुछ प्रमुख सर्विसेज:

  • गूगल कंप्यूट इंजन | Google Compute Engine
  • ऐप इंजन | App Engine
  • क्लाउड स्टोरेज | Cloud Storage
  • गूगल कुबेरनेट्स इंजन | Google Kubernetes Engine

Question for you?

टेक्नोलॉजी हमेशा ही जन मानस की उत्सुकता को बढ़ाती रही है आप क्या कहते है की Google Cloud App Engine जैसी टेक्नोलॉजी के साथ कैसे आगे बढ़ना चाहिए। कमेंट करिये-

Share your love
Awanish Kumar
Awanish Kumar
Articles: 52

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!